भीड़ ने भाजपा विधायक व उनकी ‘दूसरी पत्नी’ को पीटा

0
29

यवतमाल (महाराष्ट्र) । अर्नी से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक राजू नारायण तोड़साम और उनकी ‘दूसरी पत्नी’ की भीड़ ने सडक़ पर पिटाई कर दी और कहा कि उन्हें शनिवार को महाराष्ट्र में यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच साझा करने की इजाजत नहीं दी जानी चाहिए। जब भाजपा विधायक अपनी ‘दूसरी पत्नी’ प्रिया शिंदे-तोड़साम के साथ एक खेल टूर्मामेंट का उद्घाटन कर लौट रहे थे।

यौन शोषण के आरोपों से घिरे अमेरिका के साउदर्न बैपटिस्ट चर्च

प्रिया शिंदे और पार्टी समर्थक तोड़साम के 42वें जन्मदिन का जश्न मना रहे थे कि तभी विधायक की पहली पत्नी अर्चना तोड़साम और उनकी सास कुछ समर्थकों के साथ उनके वाहनों के समीप पहुंचीं और ‘दूसरी पत्नी’ को भला बुरा कहा। कुछ देर चली जुबानी जंग के बाद अर्चना और उनकी सास ने प्रिया को थप्पड़ लात और घूंसे मारने शुरू कर दिए। प्रिया हाथ जोडक़र दया के लिए चिल्लाती रहीं।

जब तोड़साम ने प्रिया शिंदे को बचाने का प्रयास किया तो उनपर उनकी मां व पहली पत्नी और गुस्साए लोगों ने हमला कर दिया। लोग अर्चना के लिए न्याय की मांग कर रहे थे। अर्चना एक जनजातीय स्कूल अध्यापिका हैं। प्रत्यक्षदर्शी द्वारा बनाया गया घटना का वीडियो वायरल हो गया। भाजपा विधायक की व्यापक आलोचना हो रही है और अर्चना को सहानुभूति मिल रही है। तोड़साम से आईएएनएस नेकई बार संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी। किसान नेता और वसंतरा नाइक शेती स्वावलंबन समिति के अध्यक्ष किशोर तिवारी ने घटनाक्रम पर गंभीर राय व्यक्त करते हुए कहा कि विधायक का ‘दूसरी पत्नी’ के साथ सार्वजनिक रूप से बाहर आना ‘बेशर्मी भरा व्यवहार’ है।

कीटों का हो रहा पतन, बड़े संकट में पड़ सकती है दुनिया

तिवारी ने बुधवार को मीडिया से कहा ‘‘उन्हें पहली पत्नी और अपनेदो नाबालिग बच्चे को न्याय देना चाहिए, जिन्हें उन्होंने दूसरी महिला के लिए छोड़ दिया है। उन्होंने अर्चना से आठ साल पहले शादी की थी। अगर वह 48 घंटे के भीतर बात नहीं मानते हैं तो हम प्रधानमंत्री से अपील करेंगे कि वे शनिवार को अपनी पंधारकावाडा यात्रा में इस मुद्दे को हल करें।’’ घटना के थोड़ी देर बाद पुलिस वहां पहुंची और गुस्साई भीड़ के बीच से तोड़साम और प्रिया शिंदे को सुरक्षित बाहर निकालने में सफल रही। पुलिस ने प्रिया को अस्पताल में भर्ती कराया। उन्हें चेहरे पर चोट आई है।

पंधारकावाडा पुलिस थाने के एक अधिकारी डी.एस. तेम्भारे ने सार्वजनिक रूप से हुए हंगामे की पुष्टि करते हुए आईएएनएस को बताया कि प्रिया और अर्चना दोनों महिलाएं अपनी सास के साथ बाद में पुलिस थाने आई थीं और उन्होंने अपने विवाद को आपसी सहमति से सुलझाने की बात कही। इसलिए कोई औपचारिक शिकायत नहीं दर्ज हुई है।

अब हवा में उड़ेगी कार, नासा संग कंपनियां जल्द करेगी उबर टैक्सी का निर्माण

———————————————————————————–

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...