जगन्नाथ मंदिर: लाइन लगाने की व्यवस्था के खिलाफ प्रदर्शन, हिंसा, धारा 144 लागू

0
48

पुरी। ओडिशा के पुरी स्थित जगन्नाथ मंदिर में लाइन में लगने की व्यवस्था के खिलाफ हुआ प्रदर्शन बुधवार को हिंसक हो गया। जगन्नाथ सेना के कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ की। संघर्ष में नौ पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इलाके में धारा 144 लगा दी गई है।

प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए लाइन लगाने की व्यवस्था शुरू की जा रही है। एक सामाजिक-सांस्कृतिक संगठन इसका विराध कर रहा है। संगठन ने 12 घंटे का बंद बुलाया था। पुलिस के मुताबिक, श्री जगन्नाथ सेना द्वारा शहर में बुलाया गया दिनभर का बंद उस समय हिंसक हो गया जब 12वीं सदी में बने मंदिर में भीड़ घुस गई और श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजेटीए) के कार्यालय में तोड़फोड़ की। प्रदर्शनकारियों ने एक पुलिस चौकी और सिंहद्वार के नजदीक एक सूचना केंद्र में भी तोड़फोड़ की। इसके बाद टायरों को जला दिया गया और पथराव किया गया।

प्रदर्शनकारियों की मांग है कि लाइन लगाकर दर्शन व्यवस्था का आदेश वापस लिया जाए। सेवायतों को डोनेशन लेने का अधिकार मिलना चाहिए। रत्नभंडार की चाबी खोने के मामले की उच्चस्तरीय जांच की जाए। स्वर्गद्वार का पुनरुद्धार किया जाए। श्रीमंदिर परिसर पर सीढि़यों पर पिंडदान और श्राद्ध की परंपरा जारी रहनी चाहिए। सिद्धमहावीर रेलवे क्रासिंग पर ओवर ब्रिज बनाया जाए. पत्रकार पर हमले की जांच की जाए।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...