नई दिल्ली। संजय दत्त ने कुछ दिन पहले ट्विटर पर एलान किया था कि वो मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए काम से ब्रेक ले रहे हैं। इस एलान ने उनके फैंस और इंडस्ट्री को चौंका दिया था। सभी के ज़हन में एक ही सवाल था, आख़िर संजू बाबा को क्या हुआ है, जिसके ट्रीटमेंट के लिए वो काम से ब्रेक ले रहे हैं। परिवार की तरफ़ से तो उनकी बीमारी को लेकर कोई खुलासा नहीं किया गया है, मगर तमाम मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया कि संजय को लंग कैंसर हुआ है। संजय इलाज के शुरुआती दौर के लिए कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती हैं। अब संजय को लेकर इरफ़ान ख़ान के बेटे बाबिल ने एक इमोशनल नोट लिखा है, जिसमें एक अहम खुलासा भी किया।

बाबिल ने इंस्टाग्राम पर लिखा- लेखक हमेशा सोचते हैं कि कैसे शुरू करूं, लेकिन मैं कोई लेखक नहीं हूं, इसलिए लिख रहा हूं- मैं सभी जर्नलिस्ट और मानवीय उत्सुकता से अनुरोध करता हूं कि अंदाज़ा लगाना कम करें। मैं जानता हूं कि यह आपका काम है, लेकिन यह भी जानता हूं कि हम सबके अंदर मानवता का एहसास जीवित है। इसलिए संजू भाई और उनके परिवार को ज़रूरी स्पेस दीजिए।

यहां एक राज़ पेश है- जब मेरे पिता को बीमारी का पता चला था, तो संजू भाई मदद की पेशकश करने वाले सबसे पहले लोगों में शामिल थे। बाबा के जाने के बाद भी, संजू भाई सबसे पहले लोगों में से थे, जो किसी स्तम्भ की तरह मदद के लिए खड़े रहे। मैं आपसे गुज़ारिश करता हूं कि उन्हें मीडिया दबाव के बिना उनकी लड़ाई लड़ने दीजिए। आपको याद रखना चाहिए कि हम संजू बाबा की बात कर रहे हैं, जो एक टाइगर हैं। फाइटर हैं। अतीत आपको परिभाषित नहीं करता, लेकिन यह निश्चित तौर पर यह आपको उभारता है और मैं जानता हूं कि यह ख़त्म होगा और संजू बाबा एक बार फिर हिट देने लौटेंगे।

बता दें कि इरफ़ान का निधन इसी साल अप्रैल में हुआ था। इरफ़ान को मार्च 2018 में एंडोक्राइन ट्यूमर का पता चला था, जिसका इलाज करवाने वो लंदन गये थे। लगभग सालभर इलाज करवाने के बाद इरफ़ान फरवरी 2019 में देश लौटे थे। संजय दत्त और इरफ़ान ने 2010 की फ़िल्म नॉकआउट में साथ काम किया था।