नौसेना के पूर्व अधिकारी की पीटाई पर बेटी का पुलिस पर आरोप, बोली-यहां मानवता खत्म

महाराष्ट्र के मुख्यमंरी उद्धव ठाकरे का एक कार्टून फॉरवर्ड करना सेवानिवृत्त नेवी अधिकारी को बहुत भारी पड़ा। मुंबई पश्चिमी उपनगर कांदिवली में शिवसैनिकों ने शुक्रवार को पूर्व नौ सेना अधिकारी मदन शर्मा पर आधा दर्जन से अधिक शिवसैनिकों ने जानलेवा हमला कर दिया। इसके बाद उनकी तस्वीर सामने आई, जिसमें उनकी आंख को नुकसान पहुंचा था। हाल में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रणौत का ऑफिस तोड़े जाने के बाद शिवसेना की आक्रामकता बढ़ गई है। इसको लेकर पूर्व नौसेना अधिकारी की बेटी शीला शर्मा ने मुंबई में हुए पिता पर हमले को लेकर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने साफ कहा कि यहां मानवता खत्म हो चुकी है और राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की जुरूरत है। उन्होंने कहा, 'मेरे पिता के पास धमकियां आना शुरू हो गई थी। उनके पास फोन आ रहे थे। फिर अचानक घर पर काफी संख्या में लोग आए और पिता से नीचे आने को कहा। वे (शिवसेना वाले) कह रहे थे कि उनको सिर्फ बात करनी है, लेकिन उन्होंने पिता के साथ मारपीट चालू कर दी। यहां मानवता नाम की कोई चीज नहीं बची है, राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए। बेटी शीला बोली कि पिता ने उन्हें समझाने की कोशिश की कि वह कार्टून उन्होंने नहीं बनाया है, बल्कि वह एक फॉरवर्ड मैसेज था, लेकिन उनकी नहीं सुनी गई। शीला ने आगे पुलिस पर भी आरोप लगाया कि गुंडों को पकड़ने की बजाए वे मेरे पिता को अपने साथ ले जाना चाहते थे। इस मामले में मुंबई पुलिस ने शिवसेना नेता कमलेश कदम समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। बता दें कि कांदीवाली निवासी सेवानिवृत्त नेवी अधिकारी मदन शर्मा ने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का एक व्यंग्य कार्टून वॉट्सएप पर फॉरवर्ड कर दिया था। यह बात शिवसेना को पसंद नहीं आई। पूर्व नेवी अधिकारी के साथ हुई इस घटना का वीडियो अभिनेत्री कंगना रनोट ने अपने ट्वीटर पर पोस्ट करते हुए लिखा है शेम, यानी शर्मनाक।