मुंबई : सुशांत सिंह राजपूत की विस्तृत पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि लटकने के कारण दम घुटने से (अप्राकृतिक) उनकी मृत्यु हुई है। इसमें यह भी कहा गया है कि थायरॉयड-उपास्थि के स्तर पर गर्दन के चारों ओर मौजूद दबने के निशान (संयुक्ताक्षर चिह्न) भी मौजूद हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि 'संयुक्ताक्षर' (लिगेचर) की कुल लंबाई 33 सेंटीमीटर है। बता दें कि लिगेचर मार्क को आम भाषा में गहरा निशान कहते हैं। आमतौर पर यह यू शेप का होता है, जो बताता कि गला किसी रस्सी या उसके जैसी चीज से कसा गया है। गर्दन की दाईं ओर लिगेचर का निशान अधिक और गहरा है और गर्दन के पीछे और ग्रीवा के फैलाव पर यह निशान नहीं है। रिपोर्ट में लिगेचर के निशान के बारे में विस्तृत विवरण दिया गया है।

Sushant Singh Rajput case: Mumbai Police hands over the case diary ...

पांच डॉक्टरों द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि चमड़े के नीचे के ऊतक और मांसपेशियों में और थायरॉयड ग्रंथि, स्वरयंत्र की मांसपेशियों और कंठ नली की मांसपेशियों में रक्तस्राव का कोई सबूत नहीं है।

वकील का दावा- रिया चक्रवर्ती को लिया जा सकता है हिरासत में

वकील विकास सिंह का कहना है कि प्रोफेशनल दुश्मनी से भी जांच होगी। हमने इसे नहीं छोड़ा है। हमने इस पर ज्यादा जोर इसलिए नहीं डाला क्योंकि हमें इस बारे में कोई डायरेक्ट जानकारी नहीं थी। विकास से जब पूछा गया कि क्या रिया को भी जांच के लिए हिरासत में लिया जाएगा? तो उन्होंने कहा, चांस हैं कि रिया को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया जा सकता है।