नई दिल्ली : भारत में बेहद लोकप्रिय रहे चीनी एप टिकटॉक के प्रतिबंधित होने के बाद अब यूट्यूब और फेसबुक भी तेजी से उसका विकल्प लाने जा रहे हैं। फिलहाल यूट्यूब उसके विकल्प के तौर पर 'शॉर्ट्स' नाम का एप लांच कर रहा है। फिलहाल फेसबुक 'लासो' के नाम से ऐसे ही एक विकल्प की टेस्टिंग चुपचाप ब्राजील में कर रहा है। यूट्यूब के नए एप शार्ट्स के जरिए लोग छोटे छोटे वीडियो बनाकर टिकटॉक की ही तरह अपलोड कर सकते हैं। इसमें यूट्यूब के लाइसेंस वाले गानों पर वीडियो बनाए जा सकते हैं।

यूट्यूब

‘द इन्फॉरमेशन’ की रिपोर्ट के मुताबिक टिकटॉक में जिस तरह ऑडियो और संगीत के चुनाव का विकल्प होता है, उसी तरह यूट्यूब शॉर्ट्स में सबसे बड़ी खासियत ये होगी कि इसके ऑडियो और संगीत को लेकर कोई कॉपीराइट का मामला नहीं आएगा क्योंकि इस लिस्ट में लाइसेंस वाले गीत-संगीत ही होंगे। इस खबर की पुष्टि ट्विटर पर भी आधिकारिक तौर पर कर दी गई है।

गौरतलब है कि पिछले दो सालों में टिकटॉक की लोकप्रियता भारत में 125 फीसदी से ज्यादा डाउनलोड के साथ बहुत तेजी से बढ़ती जा रही थी और अकेले भारत में इसके कई करोड़ यूजर्स रहे हैं। ‘द इन्फॉरमेशन’ की रिपोर्ट के मुताबिक एप्पल और गूगल के एप स्टोर से टिकटॉक पिछले एक साल में 84 करोड़ 20 लाख बार डाउनलोड हुआ। यानी एक साल में 15 फीसदी से ज्यादा ग्रोथ दिखी। ऐसा नहीं है कि यूट्यूब ने ये प्रयोग कोई पहली बार किया है। उसने इंस्टाग्राम स्टोरी जैसा फीचर यूट्यूब स्टोरी की तरह शुरू किया जिसे हर महीने करीब दो करोड़ लोग इस्तेमाल करते हैं। इसी तरह फेसबुक भी टिकटॉक जैसा ही अपना एक और वर्जन ला रहा है 'लासो' जिसकी वह फिलहाल ब्राजील के बाजारों में चुपचाप टेस्टिंग कर रहा है।